त्रिवेंद्र सरकार में सबसे पावरफुल रहे मदन कौशिक से छीनी ताकत

देहरादून, डीडीसी। त्रिवेंद्र जा चुके हैं और अब उत्तराखंड में तीरथ सिंह रावत सरकार है। शतरंज की बिसात पर वजीर सबसे ताकतवर होता है और जब सरकारें बदलती हैं तो सबसे पहले वजीर का सिर कलम होता है। पुरानी त्रिवेंद्र सरकार में सबसे पॉवरफुल रहे मदन कौशिक के साथ नई तीरथ सरकार ने भी कुछ ऐसा ही किया है। कौशिक की कुर्सी छिन चुकी है और ये त्रिवेंद्र सरकार के पुराने सिपहसलारों के लिए सबक है। शुक्रवार शाम नए-पुराने चेहरों के साथ सीएम तीरथ सिंह रावत की नई कैबिनेट तैयार हो गई। इस कैबिनेट में 11 नए चेहरों ने मंत्री पद की शपथ ली। जबकि बाकी पुराने हैं।

ये हैं उत्तराखंड सरकार के नए मंत्री
उत्तराखंड सरकार की कैबिनेट में बंशीधर भगत, सतपाल महाराज, हरक सिंह रावत, सुबोध उनियाल, यशपाल आर्य, धन सिंह रावत, बिशन सिंह चुफाल, अरविंद पांडेय, गणेश जोशी, रेखा आर्या और स्वामी यतीश्वरानन्द शामिल हैं। इनमें 4 नए और 7 पुराने चेहरे शामिल हैं। वहीं इससे पहले त्रिवेंद्र सरकार में सबसे ज्यादा पावरफुल मंत्री रहे मदन कौशिश की छुट्टी हो गई है। पार्टी ने उन्‍हें प्रदेश की ज‍िम्‍मेदारी सौंपी है।

अरविंद ने संस्कृत में ली शपथ
तीरथ सिंह रावत के कैबिनेट में शामिल हुए अरविंद पांडेय ने अपनी शपथ संस्कृत में ली। बता दें कि अरविंड पांडेय पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के कैबिनेट में शिक्षा मंत्री तौर पर काम कर रहे थे। वहीं रावत के कैबिनेट में गणेश जोशी नए चहरे के तौर पर शामिल हुए हैं। डॉ. धन सिंंह रावत, रेखा आर्य, यतीश (स्वतंत्र प्रभार) राज्य मंत्री के तौर पर शामिल हुए हैं।

बंशी 6 और चुफाल 5 बार के विधायक
6 बार के विधायक बंशीधर भगत नैनीताल की कालाढूंगी विधानसभा से विधायक हैं। भगत को प्रदेश अध्यक्ष के पद से हटाकर मदन मदन कौशिक को प्रदेश अध्‍यक्ष का प्रभार द‍िया गया है। अब बंधीधर को कैबिनेट में जगह मिली है। बिशन सिंह चुफाल पिथौरागढ़ की डीडीहाट सीट से विधायक हैं। पांच बार के विधायक चुफाल पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व की सरकारों में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं। हालांकि पिछली त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार में चुफाल मंत्री नहीं बन पाए थे। कोटद्वार से विधायक हरक सिंह रावत साल 2017 में कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए। हरक कांग्रेस सरकारों में भी मंत्री रहे हैं। त्रिवेंद्र सरकार में हरक वन, श्रम के साथ ही आयुष विभाग के भी मंत्री रहे।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here