– वीडियो बनाने के शौक से अंदर ट्रेनी की नौकरी पर बन आई

लखनऊ, डीडीसी। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आगरा (Agra) के थाना एमएम गेट पर तैनात महिला आरक्षी प्रियंका मिश्रा (Priyanka Mishra) को वर्दी में रिवॉल्वर के साथ वीडियो बनाना महंगा साबित हुआ। यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद विभाग में हड़कंप मच गया। मामले का संज्ञान लेते हुए एसएसपी आगरा मुनिराज ने आरक्षी प्रियंका मिश्रा को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया है। साथ ही वीडियो पर जांच भी बैठाई है।

5-5 साल के बच्चे कट्टा चलाते हैं
वीडियो में प्रियंका कमर में रिवॉल्वर लगाकर उत्तर प्रदेश पुलिस की रंगबाजी के जैसे डायलॉग दे रही हैं। बैकग्राउंड में चल रहा म्यूजिक है, ‘हरियाणा, पंजाब तो बेकार ही बदनाम है आओ कभी उत्तर प्रदेश, रंगबाजी हम तुम्हें सिखाते हैं। ना गुंडई पर गाना बनाते हैं, ना गाड़ी पर जाट-गुर्जर लिखाते हैं, हमारे यहां पांच-पांच साल के लड़के कट्टा चलाते हैं।’

अपलोड होते ही वायरल हुआ वीडियो
प्रियंका मिश्रा थाना एमएम गेट (MM Gate) पर तैनात हैं। प्रियंका ने पुलिस की वर्दी में रिवॉल्वर के साथ वीडियो बनाया और इंस्टाग्राम (Instagram) पर अपलोड कर दिया। यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। प्रियंका मिश्रा का यह वीडियो देखते ही देखते सोशल मीडिया पर छा गया है।

अंडरट्रेनी प्रियंका को कुछ दिन पहले मिली है पोस्टिंग
थाना एमएम गेट प्रभारी अवधेश अवस्थी का कहना है कि प्रियंका मिश्रा अंडर ट्रेनी (Under Trainee) है। कुछ ही दिनों पहले ही उन्हें थाने में पोस्टिंग मिली है। अभी वह छुट्टी पर हैं। प्रियंका के इस वीडियो पर एसएसपी (SSP) मुनिराज ने संज्ञान लिया है। एसएसपी ने बुधवार को प्रियंका मिश्रा को पुलिस लाइन स्थानांतरित कर दिया गया है। साथ ही वीडियो को लेकर जांच बैठाई है।

किसकी रिवॉल्वर, पता लगाएगी पुलिस
पुलिस के कुछ अधिकारियों का कहना है कि प्रियंका मिश्रा ने वीडियो में जिस रिवॉल्वर का इस्तेमाल किया उस संबंध में भी जांच की जाएगी। इसके बाद प्रियंका मिश्रा पर कार्रवाई हो सकती है। यूपी में 5-5 साल के बच्चों का कट्टा चलाने वाले म्यूजिक पर थिरकी प्रियंका को फिलहाल लाइन हाजिर कर दिया गया है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here