– अनैतिक कार्य के आरोप में महिला सेल लाई गई लड़की के भाई और भाई की साली के साथ कोतवाली में सरेआम बदसलूकी

हल्द्वानी, डीडीसी। अनैतिक कार्य के आरोप में पूछताछ के लिए बुलाए गए भाई, बहन और उसके रिश्तेदारों के साथ एक महिला इंस्पेक्टर और उसकी टीम ने जमकर बदसलूकी की। इंस्पेक्टर ने साली पर थप्पड़ बरसाए और युवक को रात घर आकर गोली मारने की धमकी दी। सरेआम बेइज्जत होने के बाद पीड़ित ने एसपी सिटी को मामले की तहरीर सौंपी। एसपी सिटी ने पूरे मामले की जांच कोतवाल अरुण कुमार सैनी को सौंपी है।

जब दबिश दी तो घर में अकेली थी लड़की
हैड़ाखान में रहने वाला एक युवक यहां महिला कॉलेज के पास किराए के घर में रहता है और कॉलेज में कंप्यूटर ऑपरेटर का काम करता है। यहां उसकी पत्नी, छोटी बहन और साली रहती है। पत्नी एक अस्पताल में काम करती है और साली कंप्यूटर का कोर्स कर रही है। जबकि छोटी बहन का एडमिशन होना है। आरोप है कि सोमवार को पुलिस महिला सेल प्रभारी इंस्पेक्टर ललिता पांडे ने टीम के साथ उसके घर में दबिश थी। उस वक्त बहन घर पर अकेली थी। इंस्पेक्टर ने उसके साथ बदसलूकी, मोबाइल जब्त कर लिए और घर का सारा सामान उलट-पलट दिया।

कोतवाली बुला कर सरेआम बेइज्जत किया
इस मामले में आज इंस्पेक्टर ललिता पांडे ने लड़की के साथ कमरे में रहने वाले सभी लोगों को कोतवाली परिसर स्थित महिला सेल बुलाया। जहां लड़की पर अनैतिक कार्य में लिप्त होने का आरोप लगाया गया। जब लड़की के भाई, पत्नी व साली ने विरोध किया तो इंस्पेक्टर ने परिसर में सबके सामने बेइज्जत किया। साली को थप्पड़ मारे और लड़की के भाई को धमकाया कि घर आकर गोली मारूंगी। जिसके बाद पीड़ित पक्ष तहरीर लेकर एसपी सिटी डॉ.जगदीश चंद्र के पास पहुंचे। एसपी सिटी ने मामले की जांच कोतवाल अरुण कुमार सैनी को सौंपी है।

लाइन हाजिर की गई महिला इंस्पेक्टर
मंगलवार दोपहर कोतवाली में हंगामे के बाद एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने महिला एवं बाल हेल्पलाइन/प्रभारी एएचटीसी को लाइन हाजिर कर दिया। अब प्रभारी महिला एवं बाल हेल्पलाइन/एएचटीसी का प्रभारी एसआई लता बिष्ट को बनाया गया है। लता बिष्ट इससे पहले एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल से तैनात थीं। इसके अलावा महिला उपनिरीक्षक सोनू वाफिला थाना मल्लीताल से थाना हल्द्वानी स्थानांतरित की गई हैं।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here