– राजकीय बालिका इंटर कॉलेज बनभूलपुरा में कमेंट पास करने पर गाली-गलौज के बाद पूर्व पार्षद पुत्र व एक अन्य कांग्रेस समर्थक को पीटा

हल्द्वानी, डीडीसी। हल्द्वानी विधानसभा में चुनाव के दौरान कांग्रेसियों और सपाइयों में जूतमपैजार हो गई। सपा प्रत्याशी शुऐब अहमद के भाई ने कांग्रेस प्रत्याशी सुमित हृदयेश के करीबी व एक पूर्व पार्षद के बेटे को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। मामला बिगड़ा तो पुलिस को लाठीचार्ज कर मामला संभालना पड़ा। मारपीट का ये वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल है, जिसमें सपा प्रत्याशी शोएब अहमद भी साफ दिखाई दे रहे हैं।

बताया जाता है कि दोपहर कांग्रेस प्रत्याशी सुमित हृदयेश अपने पांच समर्थकों के साथ लाइन नंबर 17 बनभूलपुरा स्थित राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में बने मतदान स्थल में निरीक्षण करने पहुंचे थे। इसी बीच समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी शुऐब अहमद भी अपने भाई व समर्थकों के साथ पहुंच गए। सुमित अपने पांच साथियों के साथ मतदान स्थल के अंदर थे, लेकिन शुएब को पांच लोगों के साथ अंदर जाने की इजाजत नहीं दी गई।

इस बीच सुमित अपने समर्थकों के साथ वहां से निकल गए। तभी कुछ कांग्रेसियों ने सपाइयों को अपशब्द कह दिए। उस वक्त शुएब वहीं थे और इसके बाद माहौल बिगड़ गया। यहां मौजूद पुलिस और अर्द्धसैनिक बल ने प्रयास तो बहुत किया, लेकिन बात नहीं संभली। अपशब्द से गुस्साए सपा समर्थकों ने कांग्रेसियों को घेर लिया और सड़क पर दौड़ा-दौड़ा कर कर पीटा। मामला बिगड़ता देख फौरन ही वायरलेस सेट पर अतिरिक्त पुलिस बल की मांग गई।

जिसके बाद एसपी सिटी हरबंस सिंह, सीओ सिटी भूपेंद्र धोनी और थानाध्यक्ष बनभूलपुरा नीरज भाकुनी के पुलिस और अर्द्धसैनिक बल के साथ मौके पर पहुंच गए। घटना स्थल पर भारी भीड़ जमा थी। चेतवनी देने के बाद भी जब मतदान स्थल के आस-पास जमा भीड़ नहीं छटी तो पुलिस ने सख्त रुख अपनाया। पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों ने लाठीचार्ज कर दिया। सुमित समर्थकों में एक पूर्व पार्षद का बेटा और एक सुमित का करीबी बताया जा रहा है।

सपाइयों की भीड़ में करीब चार कांग्रेसी फंसे थे, जिन्हें बुरी तरह पीटा जा रहा था। कांग्रेसियों को गुस्साए सपाइयों से बचाने की एक दरोगा ने कोशिश भी की, लेकिन वह खुद सपाइयों की नाराजगी का शिकार हो गया। कांग्रेसी पिटाई से बचने में भीड़ के एक-दो हाथ दरोगा को भी लग गए। थानाध्यक्ष नीरज भाकुनी ने बताया कि इस मामले में अभी किसी पक्ष की ओर से तहरीर नहीं आई है। तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here