– कुरान से 26 आयतें हटाने को लेकर फिर निशाने पर वसीम रिजवी

लखनऊ, डीडीसी। हमेशा से कट्टर मुस्लिम समाज के निशाने पर रहे वसीम रिजवी के खिलाफ फतवा जारी कर दिया है। पहले तो उन्हें समाज से बेदखल किया गया और फिर फतवा जारी कर एलान किया गया कि जो भी वसीम रिजवी का सिर कलम करेगा, उसे 11 लाख का इनाम दिया जाएगा। आपको बता दें कि कुरान से 26 आयतें हटाने को लेकर वसीम रिजवी (Waseem Rizvi) की ओर से सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में याचिका दायर की गई थी। जिसको लेकर मुस्लिम समुदाय में जबर्दस्त आक्रोश देखने को मिल रहा है।

वसीम न सिया के रहे और न सुन्नी के
वसीम रिजवी का शिया व सुन्नी दोनों ही समुदाय के लोग विरोध कर रहे हैं। यही वजह है कि वसीम रिजवी के सिर को कलम करने वाले को 11 लाख रुपए का इनाम देने का ऐलान किया है। लखनऊ में शिया-सुन्नी उलेमाओं ने वसीम रिजवी की निंदा की और संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस कर वसीम को इस्लाम से खारिज करने का फतवा जारी किया।

इजरायल के एजेंट हैं वसीम रिजवी
मुरादाबाद स्थित टीले वाली मस्जिद के इमाम मौलाना फजले मन्नान रहमानी नदवी ने कहा कि वसीम इजराइल के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं। इसका मकसद सिर्फ समाज को नुकसान पहुंचाने का है। मौलाना डॉ कल्बे सिब्तैन नूरी ने कहा वसीम के कृत्य को माफ़ नहीं किया जा सकता। वसीम रिजवी समाज का हिस्सा ही नहीं हैं। उन्होंने हमेशा मुस्लिम समाज को बदनाम किया है।

वसीम के सिर वे लिए संतान बेच दूंगा
मुरादाबाद बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अमीरुल हसन जाफरी ने कहा कि हम रिजवी के रिट याचिका का विरोध करते हैं। कुरआन मजीद के बारे में गलत बयानबाजी करने वालों को ऐसी सजा देना कोई अपराध नहीं है। जाफरी ने कहा कि सिर कलम करने वाले के लिए इनाम की राशि की व्यवस्था वह चंदा लेकर करेंगे। जरूरत पड़ी तो अपनी संतान तक को बेच देंगे।

कौन हैं वसीम रिजवी?
शिया वफ्फ बोर्ड के अध्यक्ष के पद पर बैठे वसीम रिजवी उत्तर प्रदेश की राजनीति में भी अहम भूमिका निभाते हैं। देशभर में मुसलमानों की कुल आबादी में बीस प्रतिशत शिया मुसलमान और बाकी सुन्नी हैं। शिया मुस्लिमों में रिजवी अच्छी पैठ रखते हैं। वसीम रिजवी अयोध्या मुद्दे पर बनी अपनी फिल्म को लेकर भी विवादों में थे। इस फिल्म का टीजर रिलीज होने के बाद से ही कट्टरपंथी उन्हें निशाना बना रहे हैं और जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here