जैसलमेर, डीडीसी। राजस्थान के जैसलमेर में ससुरालियों के लिए बोझ बनी एक विधवा के साथ हैवानियत की सारी हदें लांघ दी गई। जबरन शादी से इंकार पर हथियारबंद लोगों ने विधवा पर हमला बोल दिया। उसकी नाक और जीभ तलवार से काट दी गई। और तो और महिला का हाथ तक तोड़ दिया गया। विधवा को मरा समझ आरोपी मौके से फरार हो गए।
बताया जाता है कि जगीरों की ढाणी में एक विधवा पर उसके ससुराली जबरन दूसरी शादी का दबाव बना रहे थे। पीड़िता के भाई जगीरों की ढाणी निवासी बसीर खान की ओर से दर्ज कराई गई है। बसीर का कहना है कि उसकी बहन की शादी 6 वर्ष पूर्व जगीरों की ढाणी निवासी कोजे खान से हुई थी। शादी के एक वर्ष बाद कोजे खान की मौत हो गई। इसके बाद से ही ससुराली ससुराल के अन्य व्यक्ति से शादी का दबाव डाल रहे थे, लेकिन उसकी बहन राजी नही थी। आरोप है कि मंगलवार को दोपहर 1 बजे दुले खान अपने तमाम लोगों साथ दो बाइक और एक ट्रैक्टर पर सवार होकर मौके पर पहुंच गए और पीड़ि‍ता पर जानलेवा हमला कर दिया। धारदार हथियार से उसकी नाक और जीभ काट दी औ उसका दाहिना हाथ तोड़ डाला। मौके पर मौजूद बिस्मिल्लाह ने बीच बचाव का प्रयास किया तो उसका हाथ भी तोड़ डाला। घायलों का जोधपुर के एक अस्पताल में इजाल चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here