– फिर झारखंड से सामने आया अंधविश्वास का दिल दहला देने वाला मामला

पलामू, डीडीसी। इंडिया डिजिटल हो रहा है, लेकिन अंधविश्वास की अंधी कहानी के हैवान 21वीं सदी में भी जिंदा हैं। अंधविश्वास के हैवानों से जुड़ा एक ऐसा ही मामला झारखंड से सामने आया है। जहां हैवानियत का ये पहला मामला नही है। ताजा मामला पलामू जिले से जुड़ा है। जहां एक बाप-बेटे ने मिलकर एक महिला को चुड़ैल बताकर इतनी बेरहमी से पीटा गया है कि वो मरणासन्न अवस्था में पहुंच गई। इस महिला की इससे पहले अंगुलियां तक काट ली गई थीं।

खेत से लौटते वक्त घेरा, लाठी-डंडे से पीटा
घटना पलामू जिले के पाटन थाना क्षेत्र के कोरडीहा की है। जानकारी के अनुसार, महिला बुधवार की सुबह खेत में घास काटने गई थी। लौटते वक्त रास्ते में रमेश उर्फ दिनेश और उसके बेटे विकास ने महिला को घेर लिया और उसे चुड़ैल बताने लगे। जिसके बाद बाप-बेटे ने महिला को लाठी-डंडों से जमकर पीटा।

होमगार्ड है घायल महिला का पति
जख्मी हालत में महिला को उसके बेटे नागेंद्र कुमार ने पाटन के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया, लेकिन महिला की हालत को देखते हुए उसे मेदिनी रॉय मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में रेफर कर दिया गया। महिला का पति मोहन सिंह होमगार्ड का जवान है और उसकी ड्यूटी भी मेदिन रॉय मेडिकल कॉलेज में ही लगी है।

तीन दिन पहले काटी तीन अंगुलियां
महिला के बेटे नागेंद्र ने बताया कि तीन पहले भी दिनेश के परिवार ने उसकी मां को चुड़ैल बताकर उसके पैर की तीन उंगलियां काट दी थीं। नागेंद्र ने ये भी बताया कि उसकी मां के साथ दिनेश का परिवार अक्सर मारपीट भी करता रहता है। चुड़ैल की प्रताड़ना से उनका परिवार हमेशा दहशत में रहता है। फिलहाल, पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here