– दीर्ध शंका निवारण न होने पर डाली बोतल फिसल कर पेट मे पहुंच गई

रुद्रपुर, डीडीसी। बेचैनी इंसान से क्या-क्या करा सकती है, कुछ कहा नही जा सकता। ऐसा ही एक मामला सामने है तो सुनने वाले हैरत में पड़ गए। दीर्घ शंका न होने की बेचैनी ने एक युवक को इतना परेशान किया कि उसने गुप्तांग में बोतल डाल ली। दिक्कत तब हुई जब बोतल फिसल कर पेट मे चली हैं और नौबत ऑपरेशन की आ गई। मामला शक्तिफार्म से जुड़ा है।

कर्नाटक में मजदूरी करता है युवक
यह घटना कर्नाटक के एक गांव में घटी, लेकिन जिस युवक के साथ यह घटना घटित हुई वह शक्ति फार्म का रहने वाला है। बताया जाता है कि शक्तिफार्म का एक युवक मजदूरी करने कर्नाटक गया था। जहां वह एक गांव में रहकर मजदूरी करता था। इसी दौरान उसे पेट मे दिक्कत शुरू हुई। जिसके बाद दीर्घ शंका का निवारण नही हो सका।

निवृत नही हो पाया तो डाली बोतल
बताया जाता है कि कई दिनों से वह शौच नहीं जा पाया था, जिस कारण वह परेशान हो चला था। पिछले कुछ दिनों पहले वह शौच निवृत्त होने के लिए कर्नाटक के गांव में एक जंगल में गया था। जहां शौच निवृत्त होने के लिए उसने वहां पड़ी एक बोतल अपने गुप्तांग में डाल ली, लेकिन वह बोतल उसके गुप्तांग के जरिए उसके पेट के भीतर चली गई।

ऑपरेशन कर निकाली गई बोतल
जिससे वह परेशान हो गया। वह लोगों के जरिए वहां अस्पताल पहुंचा। जहां एक्स-रे के जरिए पता चला की बोतल उसके पेट में है। जिस पर चिकित्सकों ने कड़ी मशक्कत के बाद बोतल उसके पेट से निकाली। स्वस्थ होने के बाद वह वापस शक्ति फार्म लौट आया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here