बिजनेस डेस्क, डीडीसी। अगर आप समय रहते नहीं चेते तो भारतीय डाकघर आपका सेविंग एकाउंट डकार जाएगा। हम आपको डरा नहीं रहे, सिर्फ बता रहे हैं कि समय रहते अगर नहीं चेते तो वही होगा जो हमने आपको बताया है। इसलिए अगर आपका खाता भी डाकघर में हैं तो जा कर पता कर लें कि खाता चालू अवस्था में है या फिर डाकघर में खाते पर ताला लगा दिया है। एक बात और कि अगर डाकघर ने आपके खाते पर ताला नहीं लगाया है तो हो सकता है कि खाते से पैसे काट लिए हों। डाकघर ने इसकी शुरुआत 11 दिसंबर 2020 से कर दी है। तो आइए जानते हैं कि पूरा मामला क्या है।

बैंकों की तर्ज पर काम करने की तैयारी
डाकघर अब बैंकों की तर्ज पर काम करने की तैयारी कर रहा है। यानि अब डाकघर आपके लिए फ्री में कुछ भी नहीं करने वाला। डाकघर भी बैंकों की ही तरह आपसे सेवा के बदले में अब पैसे लेगा और इसकी शुरुआत हो चुका है। ये शुरुआत हुई है डाकघर के सेविंग एकाउंट से। इसीलिए हम कह रहे हैं कि जिनता भी सेविंग एकाउंट डाकघर में है, उन्हें सावधान हो जाने की जरूरत है।

क्या करने वाला है डाकघर आपके साथ
फिलहाल डाकघर आप पर कुछ पाबंदियां लगाने जा रहा है और इन पाबंदियों की आगाज हो रहा है डाकघर के सेविंग एकाउंट होल्डर्स के साथ। पहले का किस्सा कुछ ऐसा था कि सेविंग एकाउंट वाले अपने खाते में एक रुपया भी न रखें तो भी खाता चलता रहता था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। डाकघर में सेविंग एकाउंट में कम से कम 500 रुपये रखने की बाध्यता कर दी है।

तो ग्राहकों की जेब से कटेगा मेंटिनेंस चार्ज
डाकघर के सेविंग एकाउंट होल्डर्स के लिए एक जरूरी बात और है और वो है कि अब सेविंग एकाउंट होल्डर्स से डाकघर मेंटीनेंस चार्ज की वसूली करेगा। ये चार्ज उनके सेविंग एकाउंट को मेंटेन करने के एवज में लिया जाएगा। मतलब कि अगर खाते में 500 से कम रुपये हैं तो 100 रुपये मेंटीनेंस चार्ज देना होगा और अगर बैलेंस शून्य है तो खाता बंद भी हो सकता है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here